Search
  • Ujjawal Trivedi

Content Shortage on OTT : Opportunity for New Content Creators






पिछले 10 हफ्तों में हम सब इतना टीवी देख चुके हैं जितना हमने शायद पिछले 20 सालों में कभी नहीं देखा होगा । यही वजह है कि अब एक कमी का एहसास होने लगा है और वह कमी है कि अब क्या देखा जाए ?

ऐसा क्या देखें जिससे नई तरह का मनोरंजन हो ? लॉक डाउन होने की वजह से टीवी और मोबाइल के सामने गुजरने वाला वक्त अब पहले की तुलना में 3 गुने से भी ज्यादा हो चुका है। पहले जहां मनोरंजन के लिए दिन में एक या दो घंटा ही मिलता था अब यह समय बढ़कर 4 से 5 घंटे तक पहुंच चुका है।


एक आंकड़े के मुताबिक देश में करीब 60 करोड़ों लोग हर वक्त नए content का इंतजार करते रहते हैं। mobile short video content वाली apps जैसे TikTok, Likee और Helo पर औसतन बिताया जाने वाला समय पांच गुने से भी ज्यादा बढ चुका है। इस देश के साठ फीसदी लोग सोने से पहले TikTok वीडियो देखकर ही सोते है। यह आंकड़े लॉक डाउन के बाद के हैं । लॉक डाउन से पहले मोबाइल पर बीतने वाला समय दिन में औसतन 2 घंटे का था जो अब बढ़कर 3:30 से 4 घंटे तक पहुंच चुका है ।


अगर नई फिल्मों की बात की जाए तो पिछले 10 हफ्तों से कोई शूटिंग नहीं हुई है और महाराष्ट्र सरकार ने जिस तरह की गाइडलाइंस जारी की है उन के मद्देनजर अब अगली शूटिंग कब हो पाएगी इसके बारे में कहना मुश्किल है ।


नयी सोच के लिये यही है मौका


अब हमारे सामने दो सवाल है। पहला ये कि धीरे-धीरे जो content बना था उन्हें हम अब तक देख चुके हैं वह पुराने हो चुके हैं उनमें कोई नयापन नहीं है । सारे टी वी चैनल इसी वजह से repeat telecast के mode में आ चुके है। और दूसरा सवाल यह कि अब नया बनने में भी कितना वक्त लगेगा यह कहा नहीं जा सकता।


इस तरह की मुश्किल का सामना हम पहली बार कर रहे हैं। हमने पढ़ा भी है की 'आवश्यकता ही आविष्कार की जननी होती है' ऐसे में यह एक नई तरह के मौके के रूप में आया है । यहां कई तरह के प्रयोग हो सकते हैं जो content makers है वह इस कमी के माहौल में बहुत कुछ नए प्रयोग कर सकते हैं । ये वो वक्त है जब दर्शकों के सामने ज्यादा विकल्प नहीं हैं ऐसे में इस बात की संभावना बढ़ जाती है कि वह आने वाले किसी भी नए content को मौका जरूर देंगे । दुनिया का दस्तूर रहा है कि जब पुराने की छुट्टी होती है तभी नए को मौका मिलता है। अब पुराने की छुट्टी हो चुकी है तो नये को मोर्चा संभालना होगा।



ज़रूरत और कमी एक साथ आये है


अगर आप भी नयी पीढी के content creators है तो मै ये ब्लॉग आपके लिये ही लिख रहा हूं । आपको यह बात समझनी होगी कि यह समय आपके लिये कुछ कर दिखाने के मौके के तौर पर आया है। ध्यान रहे ऐसे मौके पिछली पीढी को नहीं मिले थे जो आपको मिल रहे है।

इस मौके में मजबूरी भी शामिल है और जरूरत भी । कमी है तो बस एक पहल करने की । ये पहल करने का काम आपको करना है । content की कमी है और अच्छे content की सबको ज़रूरत भी है । बाज़ार बदलने के लिये तैयार है और किसी आप जैसे का ही इंतज़ार है । जो पहल करेगा वह इस जंग में जीत जाएगा ।


मैदान खाली है और जीत आपके सामने खड़ी है


समझदार के लिए इशारा काफी होता है । आज के इस दौर में जब फेसबुक और यूट्यूब के मैदान खुले पड़े हैं और सबके हाथ मोबाइल फोन से भरे पड़े हैं । सबसे बड़ी बात यहां किसी की सोच पर कोई पाबंदी नहीं है। उड़ान कितनी भी ऊंची हो बस सोच से ही तय करनी है । न किसी से पूछना है न किसी को बताना है । बस जो दिल में आए उसके इर्द-गिर्द एक कहानी बनानी है। हो सकता है कि आने वाले कल के सूरमा आप ही हो ।अगर आपको लगता है यह मौका आपके लिए ही आया है तो शुरुआत भी आपको ही करनी होगी। किसी का इंतजार करना छोड़ दें कोई आपसे कहने नहीं आएगा वक्त ने अपनी जरूरत बता दी है समझना आपको है । फैसला आपको लेना है । देर मत कीजिए क्योंकि हर सेकंड के बीतने के साथ आप पिछड़ रहे हैं। अगर मेरी बात समझ में आ गई हो और हाथ में मोबाइल हो दिल में सोच हो और कहानी कहने का जज़्बा हो तो शुरूआत ज़रूर कर देना आपको अपनी पहचान बनाने से कोई रोक नहीं पायेगा।



मेरा यह ब्लॉग लिखने का मकसद नई पीढ़ी के content creators को यह बताना है कि वक्त आ चुका है वो आपका इंतजार कर रहा है पर कब तक इंतजार करेगा यह कहा नहीं जा सकता इसलिए इसी क्षण को अपने जीवन में आए मौके का आखिरी क्षण मानकर शुरू हो जाइए । हो सकता है आप में से कुछ लेखक हो, कुछ फिल्मकार हो, कुछ फोटोग्राफर हो, किसी को कैमरा अच्छा आता हो , किसी को गाना अच्छा आता हो तो किसी को नाचना या बजाना। पर देर ना करें यह वक्त की ट्रेन छूटने वाली है इससे पहले कि यह छूट जाए आपको इस पर चढ़ना होगा। Wishing you all a very happy journey.

57 views

+919223306655

©2020 by Ujjawal Trivedi. Designed and maintained by MOHD ALTAMASH