कट्टरवादी विचारधारा के कैदियों का जेल में होगा अलग बैरक, केंद्र ने राज्यों को दिए आदेश



Updated: 12 January, 2023 12:06 pm IST

केंद्र सरकार कट्टरवादी विचारधारा को लेकर हमेशा ही सख्त रवैया अपनाती है। एक बार फिर केंद्र ने सभी राज्यों को चिट्ठी लिखकर कहा है कि वहां की जेलों में जितने भी कट्टरवादी कैदी रहते हैं उन्हें अलग रखा जाए। नकारात्मक रूप से प्रभाव डालने वाले कैदियों का अलग रखा जाए ताकि दूसरों पर उनका असर ना हो।

केंद्र की ओर से राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों को लिखी गई चिट्ठी में यह भी कहा गया है कि राज्य के अधिकारियों को डीरेडिकलाइजेशन पर एक विशेष सत्र का आयोजन करना चाहिए। वहीं जो कैदी ड्रग्स और स्मगलिंग जैसी चीजों से जुड़े हुए हैं उन्हें दूसरे कैदियों से अलग रखा जाना चाहिए।

इसी के साथ सभी जेलों में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की सुविधा उपलब्ध करवाने और विभिन्न श्रेणियों के कर्मचारियों के खाली पड़े पदों को भरने का अभियान शुरू करने की अपील भी की गई है।

Also Read Story

बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचाने के तैयार हैं Fukrey 3, इस दिन रिलीज होगी फिल्म

Bigg Boss ने छीने घर वालों से कमरे, जमकर मचा बवाल

Priyanka Chahar Choudhary को भारी पड़ सकती है एक गलती, सोशल मीडिया पर हुई ट्रोल

रिलीज होते ही Pathaan को लगा झटका, ऑनलाइन लीक हुई फिल्म